Search This Blog

एमिटी यूनिवर्सिटी गुरूग्राम में संगठन 2019 प्रतियोगिता का आयोजन

एमिटी युनिवर्सिटी गुरूग्राम में 2 सितम्बर से 16 अक्तूबर तक संगठन 2019 प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें 2200 से ज्यादा छात्रों ने भाग लिया। 24 अक्टूबर 2019 को एमिटी युनिवर्सिटी नोएडा में संगठन का समापन समरोह होगा।

बेस्ट टीम ट्राफी पुरुष वर्ग में एमिटी स्कूल ऑफ ईंजीनियरिंग एंड टेक्नोलोजी और महिला वर्ग में एमिटी बिजनेस स्कूल ने कब्जा जमाया। बेस्ट एथलीट (पुरुष) वर्ग में साहिल ने बाजी मारी जिसने 200 मीटर, 800 मीटर, 1500 मीटर और खो खो में जबरदस्त परफार्मेंस कर गोल्ड हासिल किया। वहीं रिशिका और सलोनी ने बेस्ट एथलीट (महिला) वर्ग में अपने साथी खिलाड़ियो को पीछे छोड़ते हुए ट्राफी पर कब्जा किया।

रिशिका


एमिटी स्कूल ऑफ ईंजीनियरिंग एंड टेक्नोलोजी 20 गोल्ड और 10 सिल्वर मैडल जीतते हुए 125 प्वाईंट के साथ पहले स्थान पर रहा, वहीं एमिटी स्कूल ऑफ अप्लाईड साईंस 11 गोल्ड और 23 सिल्वर के साथ 124 प्वाईंट के साथ दूसरे स्थान पर रहा। दोनों ही डिपार्टमेंट के बीच कड़ी टक्कर में महज 1 प्वाईंट से एमिटी स्कूल ऑफ ईंजीनियरिंग एंड टेक्नोलोजी ने संगठन 2019 पर कब्जा किया।

समारोह के मुख्य अतिथि डॉ असीम चौहान, चांसलर, एमिटी यूनिवर्सिटी गुरूग्राम ने कहा कि एमिटी युनिवर्सिटी में विद्यार्थियों को सिर्फ पढ़ाई नहीं उसके साथ साथ खेल और संस्कार भी सिखाया जाता है। विद्यार्थियों को देश की तरक्की के साथ साथ संस्कारों का ज्ञान भी दिया जाता है जिससे वो समाज देश और विदेश में नाम रोशन करे। खेल से विद्यार्थियों में आत्म विश्वास बढ़ता है।

साहिल


प्रो(डॉ) पी बी शर्मा, वाईस चांसलर, एमिटी युनिवर्सिटी गुरुग्राम ने कहा कि देश की प्रगति की डोर हमारे युवाओं के हाथ में है, और देश तरक्की के नए मुकाम हासिल करेगा इसका मुझे यकीन है, हमारी युवा पीढ़ी सिर्फ पढ़ाई नहीं अब खेलों और अन्य गतिविधियों में भी चार चांद लगा रही है।

इस प्रतियोगिता में लगभग 2200 छात्र-छात्राएं 19 खेलों और 14 ट्रैक एंड फील्ड इवेंट में हिस्सा लिया जो कि बॉस्केटबॉल, वालीबॉल, क्रिकेट, फुटबॉल, टग ऑफ वार, शाटपुट, डिस्कस थ्रो, लॉग जम्प, 100 मीटर, 200 दौड़  हाई जम्प, बैडमिंटन, लॉन टैनिस, रिले रेस आदि शामिल है। समापन समारोह में खेलों के साथ, पुरस्कार वितरण समारोह औऱ सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रंगारंग पेशकश भी की गई।



No comments:

Post a Comment