Skip to main content

देश के नौजवान

देश का गौरव बनकर दिखाएंगे
भारत को सर्वश्रष्ठ  बनाएंगे
उम्मीद नई होगी जहां
हम नौजवान होंगे वहां।

समाज के शत्रुओं को
देश से बाहर निकालेंगे
भारत को हम फिर से
प्रगति पथ पर लाएंगे।

नेताजी हैं आन हमारी
गांधीजी है शान हमारी
फिर भी सबसे बढ़कर
भारत देश है जान हमारी।

भगत सिंह हमें जीना सिखाएं
शाहिद- ए-आजम वे कहलाएं
इन शहीदों को याद कर हम
देश पर कुर्बान हो जाएं हम।

देश के उम्मीदों को हम
व्यर्थ ना जाने देंगे
अपने आज से प्रेरणा लेकर
एक विकसित भारत गढ़ देंगे।

-प्रेरणा यादव
एमिटी यूनिवर्सिटी
कोलकाता

Comments

Post a comment